June 22, 2024 6:08 am

ग्राम प्रधान की दबँगई से नतमस्तक खंड विकास अधिकारी

बाराबंकी (प्रदीप पाठक बाबा )

विकास खंड सिद्धौर की ग्राम पंचायत सराय मीर के ग्राम प्रधान एवं ब्लॉक के अधिकारियो द्वारा ग्राम में विकास की कोई दिलचस्पी होती ही नहीं है और ग्रामीण हताश हो इधर उधर भटकने कोई मजबूर हैं आपको बताते चले की उक्त मामला हैदरगढ़ तहसील के विकास खंड सिद्धौर की ग्राम पंचायत सराय मीर का है जहाँ ग्रामीणों की सुविधा। के लिए सरकार द्वारा सभी सुविधा उपलब्ध कराई गई परन्तु ग्राम प्रधान अनिल रावत व ब्लॉक के अधिकारियो मिली भगत की भेंट चढ़ गई जबकि गाँव में मिनी अस्पताल बारात घर पंचायत भवन प्रार्थमिक विद्यालय आँगन वाड़ी व सार्वजनिक शौचालय आदि सभी उपलब्ध हैं परन्तु ग्राम प्रधान एवं विकास खंड के अदिकारियों की भ्रष्ट नीति के उक्त सभी भवन अपनी दुर्दशा की कहानी स्वयं बयां कर रहे हैं प्राइमरी विद्यालय में पढ़ने वाले नोनिहालो दिन में मिलने वाला मिड डे मील का भोजन भी नसीब नहीं होता है वह भी प्रधान व अन्य की भेंट चढ़ जाता है वहीं आंगनवाड़ी में बटने वाला पुष्टांहार तक बच्चों को नहीं मिलता है ना ही गाँव की गर्भवती एवं धात्री महिलाओ को कुछ मिलता है ना उनकी कोई देख रेख का कोई ज़िम्मेदार नजर आता है इन सभी मुद्दों के विषय में यदि कोई भी ग्रामवासी प्रधान से बात करता है तो फिर प्रधान जी का पारा सातवे आसमान पे चढ़ जाता है और प्रधान अनिल रावत अपने पावर के दम पर भोले भाले ग्रामीणों को भद्दी भद्दी गालिया दे कर उन्हें चुप होने पर मजबूर कर देता है और उक्त अधिकारी भी प्रधान की इस दबँगई से नतमस्तक हो मौन स्वीकृत दिखाई दे रहे हैं